केजरी सरकार का ऐलान, इन 40 पब्लिक सर्विसेज की होगी ‘होम डिलिवरी’

public services to be delivered at doorstep
public services to be delivered at doorstep

दिल्ली सरकार ने जाति प्रमाण पत्र और ड्राइविंग लाइसेंस जैसी 40 पब्लिक सर्विसेज को घर-घर पहुंचाने की योजना बनाई है। ये फैसला गुरुवार को हुई केजरीवाल सरकार की कैबिनेट मीटिंग में लिया गया। सरकार इसके लिए एक प्राइवेट एजेंसी हायर करेगी, जो कॉल सेंटर सेटअप करेगी।

public services to be delivered at doorstep
कैबिनेट मीटिंग के बाद ब्रीफिंग में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया

कैबिनेट मीटिंग के बाद ब्रीफिंग में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा, ”एक तरह से ये गवर्नेंस की होम डिलिवरी है। देश में पहली बार किसी राज्य सरकार ने इसे लागू करने का फैसला लिया है। आने वाली 3-4 महीने में होम डिलिवरी शुरू हो जाएगी। इसके तहत कई सर्टिफिकेट जैसे जाति, पानी के लिए नया कनेक्शन, आय, ड्राइविंग लाइसेंस, राशन कार्ड, मूल निवास, मैरिज रजिस्ट्रेशन, डुप्लीकेट आरसी और आरसी में पता बदलना जैसी 40 फैसिलिटी शामिल की गई हैं। इसके लिए एप्लीकेंट से मामूली चार्ज लिया जाएगा। स्कीम के दूसरे फेज में 30 और सर्विसेज को जोड़ा जाएगा। एक उदाहरण के साथ सिसोदिया ने बताया कि अगर कोई शख्स ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अप्लाई करता है तो उसे मान्यता प्राप्त कॉल सेंटर में सिर्फ अपनी डिटेल दर्ज करानी होगी। इसके बाद एजेंसी मोबाइल सहायक को एप्लीकेंट के द्वारा नोट कराए पते पर भेजेगी, जो उनसे जरूरी डॉक्यूमेंट्स लेकर जाएंगे। एजेंसी के मोबाइल सहायकों के पास बायोमैट्रिक और कैमरा जैसे सभी जरूरी गैजेट मौजूद होंगे। ताकि प्रमाण पत्र बनवाने के लिए चाही गई सभी डिटेल आसानी से दर्ज की जा सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here