कांग्रेस पर अब राहुल राज, जानिये गाँधी परिवार का पूरा इतिहास !

ahul Gandhi May Appoint As Congress President
ahul Gandhi May Appoint As Congress President

राहुल गांधी (47) सोमवार को कांग्रेस के निर्विरोध प्रेसिडेंट चुने गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर उन्हें बधाई दी। ट्वीट में लिखा, ”कांग्रेस प्रेसिडेंट चुने जाने पर राहुल गांधी को बधाई। पार्टी में उनके कामयाब टेन्योर के लिए शुभकामनाएं।”

कांग्रेस के 60वें मेंबर राहुल-

कांग्रेस वर्कर्स ने दिल्ली के पार्टी हेडक्वार्टर, देहरादून समेत कई राज्यों में जश्न मनाया। राहुल प्रेसिडेंट पोस्ट संभालने वाले नेहरू-गांधी परिवार के छठे और कांग्रेस के 60वें मेंबर होंगे। प्रेसिडेंट पोस्ट के लिए राहुल के अलावा किसी और कैंडिडेट ने ऑफिशियल नॉमिनेशन नहीं भरा था। नाम वापस लेने की डेडलाइन सोमवार शाम 3 बजे तक थी। इसके बाद कांग्रेस प्रेसिडेंट इलेक्शन के रिटर्निंग अफसर मुल्लापल्ली रामचंद्रन ने राहुल के प्रेसिडेंट बनने का एलान किया। कांग्रेस अध्यक्ष पद के नामांकन कर चुके राहुल गांधी के समर्थन में 89 नामांकन प्रस्ताव आए थे और सभी वैध पाए गए। इसके साथ कांग्रेस मुख्यालय 24 अकबर रोड पर जश्न का दौर शुरू हो गया।

नेताओं ने दी बधाई-

गुलाम नबी आजाद ने कहा, पूरे देश को राहुल गांधी से काफी उम्मीदें हैं। कांग्रेस प्रेसिडेंट चुने जाने से पहले उन्होंने गुजरात चुनाव में काफी उत्साह दिखाया। उन्हें अपनी जिम्मेदारियों का अहसास है।

कांग्रेस नेता तरुण गोगोई ने कहा, मौजूदा सरकार में देश के हालात काफी खराब है। ऐसे में राहुल गांधी कांग्रेस प्रेसिडेंट चुने गए हैं। गुजरात चुनाव में साफ हो जाएगा कि वह अकेले कैंडिडेट हैं, जो पूरी हिम्मत के साथ नरेंद्र मोदी का सामना कर सकते हैं।

नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा, यह देश के लिए बड़ा सौभाग्य है। देश की बड़ी आबादी युवा है और उन्हें प्रेरणा की जरूरत है। युवा राहुल गांधी को ऊगते सूरज की तरह देखते हैं। उनका जांचा-परखा खानदान है। पं. नेहरू ने आजादी दिलाई। इंदिरा जी, राजीव जी ने देश के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर दिए। सोनिया जी ने खुद पीछे हटकर सरदार मनमोहन सिंह को सत्ता दी। अब राहुल गांधी हिंदुस्तान को विश्वसनीयता देंगे।

गांधी परिवार के 6 प्रेसिडेंट-

1) मोतीलाल नेहरू:           1919 से 1929 तक
2) जवाहर लाल नेहरू:        1929 से 1959 तक         देश के 90% हिस्से पर कांग्रेस
3) इंदिरा गांधी:                1959 से 1985 तक          देश के 90% हिस्से पर कांग्रेस
4) राजीव गांधी:                1959 से 1991              देश के 67% हिस्से पर कांग्रेस
5) सोनिया गांधी:               1998 से 2017              देश के 19% हिस्से पर कांग्रेस
6) राहुल गांधी:                 2017                         लोकसभा में 543 में से सिर्फ 46 (8%) सीटें हैं

क्या करेंगी सोनिया गाँधी ?

राजनीति का लोहा मनवाने में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का जवाब नहीं है। क्रमवार सोनिया ने हर गोट फिट की है। खराब स्वास्थ्य का हवाला देते हुए क्रमवार उन्होंने राहुल गांधी को आगे किया। आगे ही नहीं किया, उनके सामने की हर मुसीबत दूर करने में चट्टान की तरह खड़ी रही। समझा जा रहा है कि वह राहुल गांधी के अध्यक्ष बनने के बाद वह बेटी प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ उनकी मुख्य सलाहकार मंडली की भूमिका में होंगी। इसके लिए कांग्रेस अध्यक्ष की अध्यक्षता में एक टीम का गठन हो सकता है और इसमें प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जैसे तमाम वरिष्ठ नेता शामिल रहकर राहुल गांधी को राजकाज चलाने में मदद करेंगे। पार्टी का लोकतांत्रिक चेहरा बनेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here